बाडी वाला - गणगौर गीत 1

बाडी वाला बाडी खोल, म्हे आया थारी दूबनं

कींणाजी री पोती छ, कींणाजी री बेटी छ

........जी री पोती छ, ……..जी री बेटी छ

बाडीवाला बाडी खोल, म्हे आया थारी दूबनं

गौर ये गोरांदे माता - गणगौर गीत 2

गोर ये गोरांदे माता खोल कीवाड़ी

पूजो ये पूजान्या बायां कांई कांई मांगो

जल हर जामी मांगां राता देई मायड

कानकंवर सो बीरो मागा, राईसी भोजाई

उंट चढो बेनाई मांगा चुडलावाली बेनड

हांडा धोवण फूफो मांगा पुस बुवारण भूवा

इतरो देई म्हारी गौरज्या ये म्हे तनं पुजणवाला

भल देई पीहर सासरो ये साराम सिरदार

खांगीसी बांध पागडी ये राजो चाल राठोडी चाल

बार ये उभी तन पूजण वाली

जंवारा - गणगौर गीत 3

म्हारा हरिया जंवारा ओ राज लंबा-तिखा सरस बदृया

म्हारा लुणीया जंवारा हो लांबा-तिखा सरस बदृया...

ये तो सुरजीरा बाया हो राज, रेणा दे जी सिंच लिया

ये तो इसरजीरा बाया ओ राज, गोरा दे जी सिंच लिया

ये तो सासु बहुरा सिंच्या ओ राज, गहुडा पिला पड रह्या

बाईसा तो गड सिंच्या ओ राज, लांबा-तिखा सरस बदृया

म्हारो दूध भरो कटोरो ओ राज, बाई रोवा पीव लिया

म्हारो गेना भरीयो डाबो ओ राज, बाई सोवा पेर लिया

म्हारी पचरंगी चुंदडी ओ राज, बाई गोरां ओढ लिया

म्हारा हरिया जंवारा ...

टिकी - गणगौर गीत 4

आ टिकी बहू  रेनादे ने सोवे तो

सुरजजी बेठ घडावे टिकी

आ टिकी बाई गोराबाई न सोवे तो 

टीकी रिमा क झिमा , टिकी पानां क फुलां

इसरजी बेठ घडावे

टीकी हरयो  नगिनो ये …

उंचो चौबारो चौखूंटो - गणगौर गीत 5

उंचो चौबारो चौखूंटो जल जमुना रो नीर मंगावोजी

जठ सूरजजी सापडया रेंनादेयन गोर पुजओजी

गोर पुजंता यूँ केवे सायब या जोडी इबछल राखोजी

आ जोडी इबछल राखोजी म्हारा चुडलान राखी बांधोजी

पावडिया - गणगौर गीत 8

पग दे पावडिया, ईसरदास जी चढया, लैर बाई रोवां, देवो ना सभी देव आशीष जी

पग दे पावडिया, कानीराभ चढया, लैर बाई रोवां, देवो ना सभी देव आशीष जी

पाटो धो - गणगौर गीत 6

पाटो धोये पाटो धो , भायां को बहन पाटो धो, पाटा ऊपर पीलो पान , महे जाश्या बीरा की जान,

जान जाश्या पाँ खास्या, बीरा ने परंणाशयां

थाली में खाजा, म्हारो बीरो राजा थाली में पताशा बीरो करे तमाशा

चूडो धो ये चूडो धो, भायां को बहन चूडो धो, पाटा ऊपर पीलो पान,

म्हे जाश्या बीरा को जान,

जान जाश्या पान खाश्या, बीरा ने परंणाशयां

थाली में खाजा, म्हारो बीरो राजा थाली में पताशा बीरो करे तमाशा

एल खेल - गणगौर गीत 7

एल खेल नदी बेव ओ पाणी कठ जासी रे,

आधो जासी अल्या गल्या आधो इसर न्हासी रे,

इसरजी न्हाया धोया गोरा बाई न्हासी रे,

गोराबाई क बेटो हुयो भुवा बधाई ल्यासी रे,

अरदा ताणों परदा ताणों बांदरबाल बंधाओ रे,

सार केरी सुई ल्याओ पाट करा बांगा रे,

आवो रे भतीजा थांकी भुवा ल्याई बागा रे,

भुवाक भरोसे जी भतीजा रेग्या नागा रे,

सीठणा - गणगौर गीत 9

ईसर जी तो पेचो बांधे, गौरां बाई पेच संवारे ओ राज,

म्हे ईसर जी की साली छा |

साली छा मतवाली ओ राज, भंवर पटा पर वारी  ओ  राज,

केशर की सी क्यारी ओ राज, लूंगा की सी बाड़ी ओ 

ईसर जी तो मोती पैर,गौरां बाई कान संवारे ओ राज,

साली छा मतवाली छा म्हे ईसर जी की साली छा|

म्हे ईसर जी की साली छा | 

म्हे ईसर जी की साली छा |

ईसर जी तो बिट्टी पैर, गौरां बाई आंगली संवारे ओ राज,

म्हे ईसर जी की साली छा 

साली छा मतवाली छा म्हे ईसर जी की साली छा |

 ईसर जी तो जामा पैर, गौरां बाई बदन संवारे ओ राज,

ईसर जी तो मोचड़ी पैर, गौरां बाई चाल संवारे ओ राज,

म्हे ईसर जी की साली छा|

म्हे ईसर जी की साली छा|

साली छा मतवाली ओ राज, लूंगा की सी बाड़ी ओ राज,

माँ ,बहन की प्यारी ओ राज चाबा लूँग सुपारी ओ राज,

म्हे ईसर जी की साली छा |

चमकण घाघरो - गणगौर गीत 10

चमकण घाघरो चमकण चीर,

बोल बाई रोवा त्यार कुण कुण बीर,

बड़ से बड़ों म्हार ईसरदास बीर 

वा स छोटो म्हार कानीराम बीर,

चूनड़ी उढ़ाव म्हार ईसरदास बीर,

माय स मिलाव महान काना रा बीर

गोर गोर गोमती - गणगौर गीत

गोर गोर गोमती, इसर पूजे पार्वती,

में म्हाके सुहाग ने, रानी को राज बढ़तो जाये, म्हको सुहाग बढ़तो जाये,

पार्वती का आला गेला, गोर का सोना का टिका,

टिका दे तमका दे रानी, व्रत करे गोरा दे रानी,

खेरे खांडे लाडू लायो, लाडू ले बीरा ने दियो,

बीरो ले गटकाए गयो, बीरो चुंदरी ओडाय गयो,

सन मन सोलह, सात कचोला, इसर गोरा, दोनूं जोड़ा,

जोड़ जवारा, गेहूं ग्यारह, रानी पूजे राज ने,

सवाग बागकीड़ी ये, कीड़ी थारी जात है,

जात है गुजरात है, गुजरात्या रो पाणी,  देदे थम्बा तानी,

म्हारो भाई एम्ल्यो खेमल्यो, लाडो ल्यो, पेढ़ा ल्यो,

झर झरती जलेबी ल्यो, हरी हरी दोब ल्यो, गणगौर पूज ल्यो

करता करता आस आयो मॉस आयो,

तानी में सिंघाड़ा, बाड़ी में बिजोड़ा,

एक दो तीन चार पांच छह सात आठ नौ दस ग्यारह बारह तेरह चौदह पन्द्रह सोलह,

इसर पार्वती दोनों भोला!!

Gor Gor Gomti (English) - Gangaur Geet 

Isar puje parwati, Parwati ka aala gela,

Gor ka sona ka tika,Tika de tamka de rani

Barat kare Gora de raani,Karta Karta aas aayo maas aayo,

kher khand ladu layo, Ladu le bira ne diyo, 

biro le gatkaye gayo, biro chundri odhay gayo

San man solah, Saat kachola, Ranya puje raaj ne, mhe mhaaka sawaag ne,

Ranya ko raaj badhto jaaye, Mhako suhaag badhto jaaye,

Sawaag bhaag keedi yae, Kidi thaari jaat hai,

Jaat hai Gujarat hai, Gujaratiya ro pani ,

de de thamba tani, Tani mein singhada, badi mein bijoda,

maharo bhai emlyo ghemlyo, ladu leyo, peda leyo,

jhar jharti jalebi leyo, hari hari dob leyo, gangaur pooj leyo,

ek do teen char paach che saat aath nau das gyarah baarah tera chodah pandrah solahIsar  

Parwati dono bhola !!

Footer

Powered by Wild Apricot Membership Software